Category - योगासन

Vajrasana Yoga Pose: वज्र का अर्थ होता है कठोर और दूसरा यह कि इंद्र के एक शस्त्र का नाम वज्र था। इससे पैरों की जँघें मजबूत होती है। शरीर में रक्त संचार बढ़ता है। पाचन क्रिया के लिए यह बहुत लाभदायक है। भोजन पश्चात्य इसी आसन में कुछ देरबैठना चाहिए। यह...

Read More
योगासन

अनुलोम विलोम प्राणायाम : शरीर को स्वस्थ व शक्तिशाली बनाने के लिए करे प्राणायाम

क्या है अनुलोम विलोम प्राणायाम अनुलोम –विलोम प्रणायाम (Anulom Vilom Pranayama) में सांस लेने व छोड़ने की विधि को बार-बार दोहराया जाता है। इस प्राणायाम को...

योगासन

सूर्य नमस्कार : शरीर को सही आकार देने और मन को शांत व स्वस्थ रखने का उत्तम तरीका

सूर्य नमस्कार क्या है  (Surya Namaskar in hindi) सूर्य नमस्कार योगासनों में सर्वश्रेष्ठ प्रक्रिया है। ‘सूर्य नमस्कार’ का शाब्दिक अर्थ सूर्य को...

योगासन

कपालभाति प्राणायाम : जानिए करने की विधि, लाभ और सावधानियाँ

कपाल=माथा; भाती= चमकने वाला; प्राणायाम = साँस लेने की प्रक्रिया यह एक शक्ति से परिपूर्ण साँस लेने का प्राणायाम है जो आपको वज़न कम करने में मदद करता है और आपके...

योगासन

पवनमुक्तासन : पेट से जुड़ी हर समस्या को दूर करने के लिए योगासन

शरीर में स्थित पवन (वायु) यह आसन करने से मुक्त होता है। इसलिए इसे पवनमुक्तासन कहा जाता है। ध्यान मणिपुर चक्र में। श्वास पहले पूरक फिर कुम्भक और रेचक। विधि : ...

योगासन

कर्ण पीडासन : मधुमेह और हर्निया से पीड़ित लोगो के लिए सर्वोत्तम योगासन

‘कर्ण’ का अर्थ है ‘कान‘, ‘पीड‘ का अर्थ है ‘दबाना‘। इस आसन में घुटनों द्वारा दोनों कान दबाए जाते हैं। इसलिए इस...

योगासन

अर्ध मत्स्येन्द्रासन : कमर व पीठदर्द से राहत पाने के लिए करे योगासन

मत्स्येन्द्रासन की रचना गोरखनाथ के गुरु स्वामी मत्स्येन्द्रनाथ ने की थी। वे इस आसन में ध्यानस्थ रहा करते थे।मत्स्येन्द्रासन की आधी क्रिया को लेकर ही अर्ध...

योगासन

मण्डूकासन : पेट से जुड़े सभी रोगों से मुक्ति पाने के लिए करे योगासन

मण्डूकासन वज्रासन समूह का आसन है, यह न केवल व्यक्ति को स्वस्थ बनाता है बल्कि यह सौन्दर्य, शरीर को सहीआकृति, नाड़ियों में सन्तुलन तथा उच्च योगिक अभ्यास के लिए ...

योगासन

वृक्षासन : मानसिक तनाव को दूर करने के लिए करे योगासन

इससे पैरों की स्थिरता और मजबूती का विकास होता है। यह कमर और कुल्हों के आस पास जमीं अतिरिक्त चर्बी को हटाता है तथा दोनों ही अंग इससे मजबूत बने रहते हैं। इस सबके...

योगासन

उर्ध्वोत्तानासन : मोटापे व चर्बी को घटाने के लिए करे उर्ध्वोत्तानासन

आसन परिचय :  उर्ध्व का अर्थ होता है ऊपर और तान का अर्थ तानना अर्थात शरीर को ऊपर की और तानना ही उर्ध्वोत्तानासन है। अनजाने में ही व्यक्ति कभी-कभी आलसवश दोनों...

नयी पोस्ट आपके लिए