राजस्थानी भजन

स्तुति अम्बा जी

ambe-maa

स्तुति अम्बा जी (Stuti Amba ji bhajan in hindi Mp3)

स्तुति अम्बिकाजी | Stuti Ambika ji

अम्बका पूजण ने आई सीता बाग़ में | | टेर | |

पूजण में पुजापो लाई, थाल लाई हात में |

संग री सहेलियों लाई, निरखू गंग्श्याम ने | |1 | | अम्बका | |

अम्बकारी पूजा कीवी , देवी रो आशिशलीवी |

ओई वर दीजे देवी अमर सोहाग में | | 2| | अम्बका | |

पुष्पों हंदी ओट जठे श्याम उभा सामने |

छाने छाने निरखू मारो चित गंग्श्याम में | |3 | | अम्बका | |

बंसरी बजावे कानो , गवों लावे धेर ने |

अम्बका री पूज़ा कीनी सरब सोहाग ने | |4 || अम्बका | |

कहत परताम कुंवर , आलीजा हो रघुवर |

सीताजी रे चित चढ़िया , तु र्रा टांको पाग में

About the author

Aaditi Dave

Hello Every One, Jai Shree Krishna, as I Belong To Brahman Family I Got All The Properties of Hindu Spirituality From My Elders and Relatives & Decided To Spreading All The Stuff About Hindu Dharma's Devotional Facts at Only One Roof.

Add Comment

Click here to post a comment

नयी पोस्ट आपके लिए