Category - पुराण

पुराण

गरुड़ पुराण कथा और सार – संसार के प्रत्येक व्यक्ति को जानना है अत्यंत आवश्यक

गरुड़ पुराण हिन्दू धर्म के प्रसिद्ध धार्मिक ग्रंथों में से एक है। वैष्णव सम्प्रदाय से सम्बन्धित ‘गरुड़ पुराण’ हिन्दू धर्म  में मृत्यु के बाद सद्गति प्रदान करने वाला माना जाता है। इसलिये सनातन हिन्दू धर्म में मृत्यु के बाद ‘garuda purana‘......

पुराण

शिव महा पुराण – धर्म, अर्थ, काम और मोक्ष रूपी चारों पुरुषार्थों को देने वाला

शिव का अर्थ है कल्याण। शिव के महात्मय से ओत-प्रोत से यह पुराण शिव महापुराण के नाम से प्रसिद्ध है। भगवान शिव पापों का नाश करने वाले देव हैं तथा बड़े सरल स्वभाव के हैं। इनका एक......

पुराण

मत्स्य पुराण – पापों से मुक्त हो बैकुंठ धाम तक पहुचने का मार्ग

मत्स्य पुराण अष्टादश पुराणों में से एक मुख्य पुराण है। इसमें 14 हजार श्लोक एवं 291 अध्याय है। भगवान विष्णु के मत्स्य अवतार से सम्बद्ध होने के कारण यह पुराण मत्स्य पुराण......

पुराण

अग्नि पुराण – जीवन की गूढ़ विद्याओ के रहस्य का भंडार

अग्नि पुराण ज्ञान का विशाल भण्डार है। स्वयं अग्निदेव ने इसे महर्षि वसिष्ठ को सुनाते हुए कहा था- आग्नेये हि पुराणेऽस्मिन् सर्वा विद्या: प्रदर्शिता: अर्थात ‘अग्नि......

पुराण

वामन पुराण – विष्णु नहीं शैव पुराण कथा का व्याख्यान करता है

वामन पुराण‘ (Vaman Puran) नाम से तो वैष्णव पुराण लगता है, क्योंकि इसका नामकरण विष्णु के ‘वामन अवतार‘ के आधार पर किया गया है, परन्तु वास्तव में यह शैव पुराण है। इसमें शैव मत का......

पुराण

ब्रह्म पुराण – सत् चित् आनन्द स्वरूप कथा श्रवण से होगी विष्णुलोक की प्राप्ति

ब्रह्मपुराण को गणना की दष्ष्टि से प्रथम माना जाता है। इस पुराण में साकार ब्रह्म की उपासना का विधान है। ब्रह्मपुराण में भगवान श्रीकष्ष्ण को ब्रह्म स्वरूप माना गया है।......

पुराण

विष्णु पुराण कथा सार – भगवान् विष्णु की महिमा का अद्भुत दर्शन

अठारह  puran में ‘vishnu puran ‘ का आकार सबसे छोटा है। किन्तु इसका महत्त्व प्राचीन समय से ही बहुत अधिक माना गया है। संस्कृत विद्वानों की दृष्टि में इसकी भाषा ऊंचे दर्जे की......

पुराण

श्री मद्भागवत पुराण कथा और सार – श्री कृष्णा के अवतारों का अलौकिक वर्णन

इस कलिकाल में ‘श्रीमद्भागवत पुराण’ हिन्दू समाज का सर्वाधिक आदरणीय पुराण है, सैकड़ों वर्षों से यह पुराण हिन्दू समाज की धार्मिक, सामाजिक और लौकिक मर्यादाओं की स्थापना में......

पुराण

लिंग पुराण – जीव से शिवमय होने का सरलतम मार्ग, मृत्यु कष्ट से मिलेगी मुक्ति

‘लिंग पुराण‘ शैव सम्प्रदाय का पुराण है। ‘लिंग‘ का अर्थ शिव की जननेन्द्रिय से नहीं अपितु उनके ‘पहचान चिह्न’ से है, जो अज्ञात तत्त्व का परिचय देता है। इस पुराण में......

Copy Protected by Nxpnetsolutio.com's WP-Copyprotect.