आरती संग्रह

श्री सत्यनारायण जी की आरती

Satya Narayan

जय श्री लक्ष्मी रमणा स्वामी जय लक्ष्मी (Satynarayan ji ki Aarti in HIndi Mp3)

जय श्री लक्ष्मी रमणा स्वामी जय लक्ष्मी रमणा |

सत्यनारायण स्वामी जन पातक हरणा || जय

रत्त्न जड़ित सिंहासन अदूभुत छवि राजै |

नाद करद निरन्तर घण्टा ध्वनि बाजै || जय

प्रकट भये कलि कारण द्विज को दर्श दियो |

बूढ़ा ब्राह्मण बन के कंचन महल कियो || जय

दुर्बल भील कराल जिन पर कृपा करी |

चन्द्रचूढ़ इक राजा तिनकी विपत हरी || जय

वैश्य मनोरथ पायो श्रद्धा तज दीनी |

सो फल भोग्यो प्रभु जी फेर स्तुति कीन्ही || जय

भाव भक्ति के कारण छिन – छिन रूप धरयो |

श्रद्धा धारण कीनी जन को काज सरयो || जय

ग्वाल बाल संग राजा बन में भक्ति करी |

मनवांछित फल दीना दीनदयाल हरी || जय

चढ़त प्रसाद सवाया कदली फल मेवा |

धूप दीप तुलसी से राजी सत्य देवा || जय

श्री सत्यनारायण जी की आरती जो कोई गावै |

कहत शिवानंद स्वामी मनवांछित फल पावै || जय

Search Kare

सर्वाधिक पढ़ी जाने वाली पोस्ट

bhaktisanskar-english

Subscribe Our Youtube Channel