राजस्थानी भजन

सर्व सुख तुम भजियो

krishana-bhajan

सर्व सुख तुम भजियो (Sarvh sukh tum bhajiyo bhajan in hindi Mp3)

सर्व सुख तुम भजियो रे गोपाल ,

तुम भजियो रे गोपाल , तुम भजियो दीनानाथ ,

सर्व सुख तुम भजियों रे गोपाल |

भक्त प्रहलाद री प्रतिज्ञा राखी , ध्रुव जी रो अविचल राज |

विभीषण ने लंका बख्शी ऋषि मुनियों रा सरियों हे काज ||

सर्व सुख तुम भजियो रे गोपाल ……………||1||

इन्दर कोप कियो ब्रिज ऊपर , वरस्यो हे मुसलाधार

ग्वाल गोपी गायो है भीजे , साय करो दिन दयाल

सर्व सुख तुम भजियो रे गोपाल ……………………||2||

बालपन रो मित्र सुदामा , पडिया हा एक पोषाल |

कंचन महल चुनाय दिया रे , रिधि सिधी बरिया हे भंडार ,||

सर्व सुख तुम भजियो गोपाल ……………..||3||

वृन्दावन री कुञ्ज गलिन में गोपियों रचायो रास ,|

सब सखियों मिल मंगल गावे , थई थई नाचे छे गोपाल , ||

सर्व सुख तुम भजियो रे गोपाल …………….||4||

मोर मुकुट पीताम्बर सोवे , गले वैजयंती माल

कोनो में कुंडल रत्न जडित है , बंशी बजावे नन्द लाल ,||

सर्व सुख तुम भजियों रे गोपाल ………….||5||

आज बिरज में आनंद गनेरो , घर घर मंगलाचार

बाई मीरा री आई हे बिनती , दासी ने उतारो पार

सर्व सुख तुम भजियो गोपाल ……………||6||

About the author

Aaditi Dave

Hello Every One, Jai Shree Krishna, as I Belong To Brahman Family I Got All The Properties of Hindu Spirituality From My Elders and Relatives & Decided To Spreading All The Stuff About Hindu Dharma's Devotional Facts at Only One Roof.

Add Comment

Click here to post a comment

नयी पोस्ट आपके लिए