हेल्थ

इन बेहतरीन तरीको से आप कर सकती है नाखुनो की देखभाल

nail

आज कल के समय में लम्बे नाख़ून रखना किसे पसंद नहीं है. परन्तु उनके कमजोर और नाजुक होने के कारण कई बार हमें इस शौक को त्यागना पड़ता है. हम अक्सर आते जाते लड़कियों के लम्बे लम्बे नाख़ून देखकर सोचते है की काश हमारे नाख़ून भी ऐसे होते. तो परेशान न हो क्योकि आपके नाख़ून बढ़ाने का उपाय आपके घर में ही छुपा है बाद जरुरत है तो उसे आजमाने की. कई बार नाखूनों में रूखापन आने लगता है जिसके कारण वे टूटने लगते है. कई बार ऐसे उनकी पूरी सफाई न करने के कारण भी होता है. इसके अलावा लोगो में पायी जाने वाली नाख़ून चबाने वाली आदत से भी आपके नाखूनों को हानि पहुंचती है. नाख़ून को स्वस्थ बनाने में डाइट का बहुत बड़ा योगदान होता है.

हमारे हाथ व् पैर दोनों के नाख़ून बहुत नाजुक होते है और उनकी देखभाल करना भी बहुत जरुरी है. साफ – सुथरे और स्वस्थ नाखून न केवल हाथों और उंगलियों को सुंदर बनाते हैं अपितु आपके शरीर को कई कीटाणुओं और जीवाणुओं के कहर से भी दूर रखते हैं जिससे बॉडी में बीमारियां नहीं लगती हैं. नाखूनों के नाजूक होने का कारण शरीर में आयरन की कमी का होना है। अगर आप वास्तव में अच्छे नाखून रखना चाहती हैं तो आपको आयरन की प्रॉपर डाइट लेना आवश्यक है.

क्या करें ?

1.अपनी डाइट पर ध्यान दें – नाख़ून शरीर में आयरन की कमी के कारण नाजुक रहते है. इसलिए अपने आहार में आयरन युक्त और कैल्शियम युक्त पदार्थो को सम्मिलित अवश्य करें. मुख्य तौर पर आयरन, लिवर, ट्रिम रेड मीट, मछलियों की कई प्रजाति में, सोया उत्पाद, बीन्स, मसूर, साबूत अनाज, नट्स, अंडे की जर्दी, ड्राई फ्रूट – किशमिश, खजूर और खुबानी आदि में पाया जाता है जबकि कैल्शियम का सर्वोत्तम

साधन दूध और गाजर है. इसके अलावा अपने खाने में प्याज का प्रयोग अवश्य करें.

 

2. चुकंदर का सेवन करें – कहा जाता है चुकंदर में बहुत अधिक मात्रा में कैल्शियम पाया जाता है. इसके अलावा इसमें Vitamin D की भी मात्रा पायी जाती है जो न केवल हमारे शरीर को अपितु हमारे नाखूनों को भी स्वस्थ बनाती है. प्रतिदिन चुकंदर का सेवन करने से हमारी उंगलिया प्राकृतिक रूप से मजबूत हो जाती है और साथ साथ आपके नाख़ून भी.

3. नींबू फ्लेवर के स्कॉवश का प्रयोग करें – एक कटोरी में घरों में प्रयोग किया जाने वाले नींबू फ्लेवर के स्कॉवश की दो चम्म्च डालें. इसके बाद इसमें एक कप न गर्म न ठंडा अर्थात समान्य पानी मिला दें. पानी मिलाने के पश्चात 2 मिनट तक अपने नाखूनों को उस घोल में डालें रखें. 2 मिनट होने के बाद उस घोल से अपने नाखूनों को निकाल ले और गुनगुने पानी से साफ़ कर लें. ध्यान रहें साफ़ करने के लिए ज्यादा गर्म पानी का प्रयोग न करें. साफ़ करने के पश्चात उस पर मॉश्चराइजर लगा लें. यदि आपके नाखूनों पर धब्बे पद गए हो या पीलापन आ गया हो तो इस टिप का प्रयोग अवश्य करें.

4. नींबू के रस का प्रयोग करें – ये एक थेरेपी बेस्ड प्रयोग है. इस प्रयोग के लिए सर्वप्रथम ताज़े नींबू का रस निकाल लें और एक चम्म्च में ले लें. इसके बाद एक रुई के मदद से इसे अपने नाखूनों पर अच्छे से लगाए और रगड़ कर साफ़ करें. इस प्रयोग का दो बार प्रयोग करते ही आपको अपने नाखूनों के रंग में फर्क दिखाई देने लगेगा. यदि आप इस विधि का लगातार प्रयोग करते रहेंगे तो आपके हाथ व् पैरो के नाखूनों की चमक बनी रहेगी.

5. जैतून के तेल का प्रयोग करें – अपने नाखूनों को लम्बा रखने वालो के लिए ये उपाय सबसे उत्तम रहेगा. जैतून के तेल का प्रयोग नाखूनों के लिए अत्यन्त लाभकारी होता है. यदि आप अपने नाखूनों को सुन्दर और मजबूत बनाना चाहते है तो प्रतिदिन इसका प्रयोग करें. नाखूनों को लम्बा

करने के लिए रोज रात नाखूनों पर जैतून का तेल लगाकर उन्हें आपस में रगड़ दें. लगभग 20 बार नाखूनों को आपस में रगड़ने से आपके नेल्स की मसाज हो जाएगी. इसका निरन्तर प्रयोग करने से आपको जल्द ही फर्ज नज़र आने लगेगा.

6.सरसो के तेल का प्रयोग करें – अपने नाखूनों की देखभाल करने के लिए सरसो के तेल का भी प्रयोग किया जा सकता है. इसके लिए सबसे पहले सरसो के तेल को गुनगुना सा गर्म कर ले. उसके बाद अपने पैरो और हाथों की सभी उंगलियों को इस गुनगुने तेल में भिगोये. इसके पश्चात लगभग 8 से 10 मिनट के लिए उन्हें तेल में ही रहने दें. फिर धीरे धीरे सभी नाखूनों की मसाज करें, ऐसे करने से उनमे रक्त का संचार बढ़ जायेगा और वह मजबूत हो जायेंगे. नाखूनों को स्ट्रांग और स्वस्थ बनाने के लिए ये कार्य प्रतिदिन करें.

7.नाखूनों में गंदगी जमा न होने दें – नाख़ून बढ़ाने के साथ साथ आपको उनकी सफाई का भी ध्यान रखना आवश्यक होता है. इसलिए कभी भी पैरो या हाथो के नाखूनों में गंदगी जमा न होने दें. याद रहें गर्मियों में हमेशा कॉटन के सॉक्स पहने जिससे पैरो के नाखूनों में जमा न होने पाए. नाखूनों में गंदगी और पसीने के कारण कई वायरस पनप जाते है जो बीमारियों का कारण बनते है. एक बात और मैनीक्योर और पैडीक्योर करवाते समय अपने नाखूनों को साफ़ कराते रहें.

8.पैरो को नाखूनों को ध्यान से कांटे – एक बात और यदि आप अपने नाखूनों को स्वस्थ रखना चाहते है तो उनके काटने पर भी ध्यान दें. पैरो को नाखूनों को काटते समय एक बात का ध्यान रखना चाहिए की उन्हें गोलाकार में न काटे, क्योकि इस आकार में काटने से उनके टूटने का खतरा रहता है. इसके अलावा कई बार वे उखड भी जाते है जिससे जुटे आदि पहनने में दिक्क्त होती है. इसीलिए पैरो के नाखूनों को छोटा और सीधा कांटे ताकि उनसे आपको नुक्सान न पहुंचे.

फंगल इन्फेक्शन न होने दें – अपनी नाखूनों की देखभाल करते समय इस बात का ध्यान रखें की उनमे फंगल इन्फेक्शन न होने दें. कोई ये आपके और आपके नाखूनों के लिए हानिकारक है. लइकन यदि ऐसे हो जाये तो सर्वप्रथम उसे डेटोल से साफ़ करें. तकलीफ बढ़ने पर डॉक्टर की सलाह लें.

नाख़ून पोलिश का अत्यधिक प्रयोग न करें – नाखूनों को बढ़ाने के लिए उनकी देखभाल करना आवश्यक है. नेल पेंट का प्रयोग करने से पूर्व

उसपर बेसिक कोट अवश्य लगाए. लेकिन कोट की मात्रा का ख्याल रखें अर्थात इसको अधिक मात्रा में न लगाए.

ज्यादा दिन तक एक नेल पेंट न लगे रहने दें – एक नेल पेंट को एक हफ्ते से ज्यादा समय तक न लगे रहने दें क्योकि इसके बाद लगे रहने से उसमे गंदगी पनपने लगती है जो हानिकारक सिद्ध हो सकती है. इसलिए हफ्ते में एक बार नेल पेंट साफ अवश्य करें. और साफ़ करने के कुछ देर तक नाखूनों पर नेल पोलिश नहीं लगानी चाहिए.

About the author

Niteen Mutha

नमस्कार मित्रो, भक्तिसंस्कार के जरिये मै आप सभी के साथ हमारे हिन्दू धर्म, ज्योतिष, आध्यात्म और उससे जुड़े कुछ रोचक और अनुकरणीय तथ्यों को आप से साझा करना चाहूंगा जो आज के परिवेश मे नितांत आवश्यक है, एक युवा होने के नाते देश की संस्कृति रूपी धरोहर को इस साइट के माध्यम से सजोए रखने और प्रचारित करने का प्रयास मात्र है भक्तिसंस्कार.कॉम

2 Comments

Click here to post a comment

नयी पोस्ट आपके लिए