राजस्थानी भजन

राम बिराजो हृदय भवन में

ram bhajan

राम बिराजो हृदय भवन (Ram birajo hridhay bhawan me bhajan in hindi Mp3)

राम बिराजो हृदय भवन में

तुम बिन और हो कुछ मन में

 अपना जान मुझे स्वीकारो

भ्रम भूलों से बेगि उबारो

मोह जनित संकट सब टारो

उलझा हूँ मैं भव बंधन में।

राम बिराजो हृदय भवन में

 तुम जानो सब अंतरयामी

तुम बिन कुछ भाये ना स्वामी

प्रेम बेल उर अंतर जामी

तुम ही सार वस्तु जीवन में।

राम बिराजो हृदय भवन में

 निज चरणों में तनिक ठौर दो

चाहे स्वामी कुछ और दो

केवल अपनी कृपा कोर दो

रामामृत भर दो जीवन में।

राम बिराजो हृदय भवन में

Search Kare

सर्वाधिक पढ़ी जाने वाली पोस्ट

bhaktisanskar-english

Subscribe Our Youtube Channel