Tag - pranayama

मैडिटेशन

देह में स्थित पंचकोश – नर से नारायण बनाने का मार्ग पञ्च कोश जागरण

पञ्च कोश (Panch Kosha) क्या हैं इनके विषय में क्या और कहाँ किसी सिद्ध महत्मा द्वारा लिखा गया है । पञ्च कोश जागरण चक्रों का जागरण कैसे हो सकता है ? किसी खगोलीय...

मैडिटेशन

कुण्डलिनी चक्रों के प्रतीकात्मक वैदिक नाम तथा उपयोगिता और चक्र सोधन में प्राणमय कोष की भूमिका

कुण्डलिनी चक्र – Kundalini Chakra in Hindi  वैदिक साहित्य में मानव शरीरगत मूलाधार आदि चक्रो के नाम प्रतीकात्मक वैदिक नाम या संकेत मन्त्र...

योगासन

प्राणायाम : क्या है, कैसे करें, क्या है लाभ और कितने प्रकार का होता है ?

प्राणायाम | What Is Pranayama  प्राणस्य आयाम: इत प्राणायाम, श्वासप्रश्वासयो गतिविच्छेद: प्राणायाम – अर्थात प्राण की स्वाभाविक गति श्वास-प्रश्वास को रोकना...

मैडिटेशन

सद्गुरु ओशो और बुद्ध के अनुसार विपश्यना ध्यान विधि साधना का रहस्य

सद्गुरु ओशो के अनुसार क्या है विपश्यना | What is Vipassana Meditation विपश्यना (Vipassana) आत्मनिरीक्षण द्वारा आत्मशुद्धि की अत्यंत पुरातन साधना-विधि है। जो...

योगासन

अनुलोम विलोम प्राणायाम : शरीर को स्वस्थ व शक्तिशाली बनाने के लिए करे प्राणायाम

अनुलोम विलोम प्राणायाम ~ Anulom Vilom Pranayam  अनुलोम –विलोम प्रणायाम (alternate nostril breathing) में सांस लेने व छोड़ने की विधि को बार-बार दोहराया जाता है।...

योगासन

कपालभाति प्राणायाम : जानिए करने की विधि, लाभ और सावधानियाँ

कपाल=माथा; भाती= चमकने वाला; प्राणायाम = साँस लेने की प्रक्रिया यह एक शक्ति से परिपूर्ण साँस लेने का प्राणायाम है जो आपको वज़न कम करने में मदद करता है और आपके...

योगासन

शीतलि प्राणायाम : उच्च रक्त्चाप को कम करने के लिए करे शीतलि प्राणायाम

ध्यानात्मक आसन में बैठकर हाथ घुटने पर रखे ! जिव्हा को नालीनुमा मोड़कर मुँह खुला हुए मुँह से पूरक करें जिव्हा से धीरे धीरे स्वास लेकर फेफड़ो को पूरा भरे कुछ षण...

योगासन

सीत्कारी प्राणायाम : दन्त, मुँह, नाक, जिव्हा रोग से मुक्ति पाने के लिए करे प्राणायाम

ध्यानात्मक आसन में बैठकर जिव्हा को ऊपर तालु में लगाकर ऊपर- नीचे की दन्त पंक्ति को एकदम सटाकर ओठो को खोलकर रखे अब धीरे धीरे ‘सी-सी ‘ की आवाज करते...

मैडिटेशन

प्राणयाम में उपयोगी बन्धत्रय

Yogasan प्राणायाम एव बंधो के द्वारा हमारे शरीर से जिस शक्ति का बहिर्गमन होता है , उसे रोककर अन्तमुर्खी करते है बंध का अर्थ ही है बांधना, रोकना ये बंध प्राणायाम...

मैडिटेशन

शरीर में सन्निहित शक्ति-केंद्र या चक्र

आपके अंदर जो सुषुप्त केंद्र हैं उनको विकसित करने के किये श्रृंगार होता है । हमारे शरीर में सात केंद्र हैं। १) मूलाधार केंद्र :  जन्म से लेकर सात साल तक मूलाधार...

Author’s Choices

हर कष्टों के निवारण के लिए जपे ये हनुमान जी के मंत्र, श्लोक तथा स्त्रोत

सूर्य नमस्कार : शरीर को सही आकार देने और मन को शांत व स्वस्थ रखने का उत्तम तरीका

कपालभाति प्राणायाम : जानिए करने की विधि, लाभ और सावधानियाँ

डायबिटीज क्या है, क्यों होती है, कैसे बचाव कर सकते है और डाइबटीज (मधुमेह) का प्रमाणित घरेलु उपचार

कोलेस्ट्रोल : कैसे करे नियंत्रण, घरेलु उपचार, बढ़ने के कारण और लक्षण

केदारनाथ ज्योतिर्लिंग : उत्तराखंड के चार धाम यात्रा में सबसे प्रमुख और सर्वोच्च ज्योतिर्लिंग

गृह प्रवेश और भूमि पूजन, शुभ मुहूर्त और विधिपूर्वक करने पर रहेंगे दोष मुक्त और लाभदायक

लघु रुद्राभिषेक पूजा : व्यक्ति के कई जन्मो के पाप कर्मो का नाश करने वाली शिव पूजा

तो ये है शिव के अद्भुत रूप का छुपा गूढ़ रहस्य, जानकर हक्के बक्के रह जायेंगे

शिव मंत्र पुष्पांजली तथा सम्पूर्ण पूजन विधि और मंत्र श्लोक

श्रीगणेश प्रश्नावली यंत्र के 64 अंकों से जानिए अपनी परेशानियों का हल