Tag - Patanjali yog sutra

मैडिटेशन

ज्ञानयोग – ब्रह्म की अनूभूति होना ही वास्तविक ज्ञान है

ज्ञानयोग क्या है – What Is Gyanyoga ज्ञानयोग से तात्पर्य है – ‘विशुद्ध आत्मस्वरूप का ज्ञान’ या ‘आत्मचैतन्य की अनुभूति’ है। इसे उपनिषदों में ब्रह्मानुभूति...

योगासन

शशांकासन – मानसिक तनाव कम करने का सर्वोत्तम आसान, जाने उचित विधि और लाभ

शशांकासन योग विधि, लाभ और सावधानी Shashankasana Yoga poses : आज का मानव सबसे ज़्यादा तनाव (Depression) और परेशानी से घिरा हुआ है। जिस कारण से वह कई रोगों से घिर...

मैडिटेशन

पतञ्जलि अष्टांग योग – आत्मा को परमात्मा से जोड़ने की प्रक्रिया

पतंजलि योग सूत्र – Patanjali Yoga Sutras Ashtanga Yoga : गणित की संख्याओं को जोड़ने के लिए भी ‘ yog ‘ शब्द का प्रयोग किया जाता है परन्तु...

मैडिटेशन

योग : आत्मा का परमात्मा से मिलन तथा मन के संशोधनों का दमन ही योग है

परिभाषा : –  योग का शाब्दिक अर्थ है – जोड़, सम्बन्ध या मिलन| प्रत्येक व्यक्ति का किसी न किसी व्यक्ति, वस्तु, वौभव से योग होता ही है| पिता-पुत्र...

Search Kare

सर्वाधिक पढ़ी जाने वाली पोस्ट

bhaktisanskar-english

Subscribe Our Youtube Channel