मंत्र-श्लोक-स्त्रोतं

भोजन सम्बन्दित मन्त्र

food-mantra

भोजन के बाद का मन्त्र 

अन्नाद् भवन्ति भूतानि पर्जन्यादन्नसंभवः ।

यज्ञाद भवति पर्जन्यो यज्ञः कर्म समुद् भवः ।।

भोजन से पूर्व बोलने का मन्त्र

ब्रह्मार्पणं ब्रह्महविर्ब्रह्माग्नौ ब्रह्मणा हुतम् ।

ब्रह्मैव तेन गन्तव्यं ब्रह्मकर्म समाधिना ।।

नयी पोस्ट आपके लिए