मंत्र-श्लोक-स्त्रोतं

भगवान सूर्य मंत्र, स्त्रोतम

surya-manta

मंत्र

1) ॐ सूर्य देवं नमस्ते स्तु गृहाणं करूणा करं |

    अर्घ्यं च फ़लं संयुक्त गन्ध माल्याक्षतै युतम् ||

2) सूर्य बीज मंत्र : 

    ॐ ह्रां ह्रीं ह्रौं सः सूर्याय नमः ॥

3) श्री सूर्य मंत्र :

    आ कृष्णेन् रजसा वर्तमानो निवेशयत्र अमतं मर्त्य च |

    हिरणययेन सविता रथेना देवो याति भुवनानि पश्यन ||

4) सूर्य नमस्कार मंत्र : 

    ॐ ध्येयः सदा सवित्र मण्डल मध्यवर्ती नारायण सरसिजा सनसन्नि विष्टः

    केयूरवान मकरकुण्डलवान किरीटी हारी हिरण्मय वपुर धृतशंख चक्रः ॥

    ॐ मित्राय नमः।

    ॐ रवये नमः।

    ॐ सूर्याय नमः।

    ॐ भानवे नमः।

    ॐ खगाय नमः।

    ॐ पुषणे नमः।

    ॐ हिरण्यगर्भाय नमः।

    ॐ मरीचये नमः।

    ॐ आदित्याय नमः।

    ॐ सवित्रे नमः।

    ॐ अर्काय नमः।

    ॐ भास्कराय नमः।

    ॐ श्रीसवित्रसूर्यनारायणाय नमः।

    ॥ आदित्यस्य नमस्कारन् ये कुर्वन्ति दिने दिने

    आयुः प्रज्ञा बलम् वीर्यम् तेजस्तेशान् च जायते ॥

5) सूर्य दर्शन मन्त्र

    कनकवर्णमहातेजं रत्नमालाविभूषितम् ।

    प्रातः काले रवि दर्शनं सर्व पाप विमोचनम् ।।

6) सूर्य अर्घ्य मन्त्र

    एहि सूर्य सहस्त्रांशो तेजोराशे जगत्पते ।

    अनुकम्पय मां देवी गृहाणार्घ्यं दिवाकर ।।

सूर्याष्टकम् स्त्रोत

आदिदेव नमस्तुभ्यं प्रसीद मम भास्कर ।

दिवाकर नमस्तुभ्यं प्रभाकर नमोऽस्तु ते ॥१॥

सप्ताश्वरथमारूढं प्रचण्डं कश्यपात्मजम् ।

श्वेतपद्मधरं देवं तं सूर्यं प्रणमाम्यहम् ॥२॥

लोहितं रथमारूढं सर्वलोकपितामहम् ।

महापापहरं देवं तं सूर्यं प्रणमाम्यहम् ॥३॥

त्रैगुण्यं च महाशूरं ब्रह्मविष्णुमहेश्वरम् ।

महापापहरं देवं तं सूर्यं प्रणमाम्यहम् ॥४॥

बृंहितं तेजःपुञ्जं च वायुमाकाशमेव च ।

प्रभुं च सर्वलोकानां तं सूर्यं प्रणमाम्यहम् ॥५॥

बन्धुकपुष्पसङ्काशं हारकुण्डलभूषितम् ।

एकचक्रधरं देवं तं सूर्यं प्रणमाम्यहम् ॥६॥

तं सूर्यं जगत्कर्तारं महातेजः प्रदीपनम् ।

महापापहरं देवं तं सूर्यं प्रणमाम्यहम् ॥७॥

तं सूर्यं जगतां नाथं ज्ञानविज्ञानमोक्षदम् ।

महापापहरं देवं तं सूर्यं प्रणमाम्यहम् ॥८॥

About the author

Aaditi Dave

Hello Every One, Jai Shree Krishna, as I Belong To Brahman Family I Got All The Properties of Hindu Spirituality From My Elders and Relatives & Decided To Spreading All The Stuff About Hindu Dharma's Devotional Facts at Only One Roof.

Author’s Choices

हर कष्टों के निवारण के लिए जपे ये हनुमान जी के मंत्र, श्लोक तथा स्त्रोत

सूर्य नमस्कार : शरीर को सही आकार देने और मन को शांत व स्वस्थ रखने का उत्तम तरीका

कपालभाति प्राणायाम : जानिए करने की विधि, लाभ और सावधानियाँ

डायबिटीज क्या है, क्यों होती है, कैसे बचाव कर सकते है और डाइबटीज (मधुमेह) का प्रमाणित घरेलु उपचार

कोलेस्ट्रोल : कैसे करे नियंत्रण, घरेलु उपचार, बढ़ने के कारण और लक्षण

केदारनाथ ज्योतिर्लिंग : उत्तराखंड के चार धाम यात्रा में सबसे प्रमुख और सर्वोच्च ज्योतिर्लिंग

गृह प्रवेश और भूमि पूजन, शुभ मुहूर्त और विधिपूर्वक करने पर रहेंगे दोष मुक्त और लाभदायक

लघु रुद्राभिषेक पूजा : व्यक्ति के कई जन्मो के पाप कर्मो का नाश करने वाली शिव पूजा

तो ये है शिव के अद्भुत रूप का छुपा गूढ़ रहस्य, जानकर हक्के बक्के रह जायेंगे

शिव मंत्र पुष्पांजली तथा सम्पूर्ण पूजन विधि और मंत्र श्लोक

श्रीगणेश प्रश्नावली यंत्र के 64 अंकों से जानिए अपनी परेशानियों का हल