Category - मंत्र-श्लोक-स्त्रोतं

ravan-sanhita-mantra

रावन द्वारा रचित रावन सहिंता के अचूक मंत्र – Ravan Mantra in Hindi  Ravan Mantra in Hindi- लंकापति रावण को दुनिया एक बुरा और सबसे नकारात्मक रूप में मानती है। रामायण काल में रावन की सबसे बड़ी भूल थी सीता हरण, लेकिन रावन एक विद्वान पंडित होने के...

Read More
मंत्र-श्लोक-स्त्रोतं

राशि अनुसार अपने इष्टदेव का मंत्र जप करने से होंगे धन धान्य से परिपूर्ण

आज जिस युग में हम जी रहे हैं, वहां धन अर्थात पैसा एक मौलिक आवश्यकता बन चुका है।  तभी तो बोला जाता है कि “बाप बड़ा ना भईया, सबसे बड़ा रुपईया।” आपने कभी कल्पना की...

मंत्र-श्लोक-स्त्रोतं

भगवान् दत्तात्रेय के अचूक मंत्र जो करेंगे सम्पूर्ण जीवन को सुखी और मनोवांछित फल से भरपूर

घर में क्लेश ना होने के लिए मंत्र | Grah Kalesh Nivaran Mantra दत्तात्रेय भगवान का चित्र स्थापित करे । चित्र के समुख एक पानीवाला नारियल मिट्टी के घड़े के ऊपर...

मंत्र-श्लोक-स्त्रोतं

माँ ब्रह्मचारिणी के मंत्र, भजन, कवच और ध्यान मंत्र

माँ ब्रह्मचारिणी भजन Mp3 जय माँ ब्रह्मचारिणी, ब्रह्मा को दिया ग्यान। नवरात्रे के दुसरे दिन सारे करते ध्यान॥ शिव को पाने के लिए किया है तप भारी। ॐ नमो शिवाय जाप...

मंत्र-श्लोक-स्त्रोतं

शिव मंत्र पुष्पांजली तथा सम्पूर्ण पूजन विधि और मंत्र श्लोक

भगवान शिव देवो के देव है, भक्तो की हर पीड़ा हरते है, कोई भी भक्त अगर शिव मंत्र (Shiv Mantra), शिव श्लोक (Shiv Shlok), महामृत्युंजय मंत्र, शिव स्तुति (Shiv...

मंत्र-श्लोक-स्त्रोतं

विशेष उद्देश्य तथा प्रयोजन सिद्धि हेतु गायत्री मंत्र का जाप (सम्पुट विधि)

शास्त्रों में प्रत्येक मंत्र को अति प्रभावकारी और फलदायी माना गया है, तथा प्रत्येक मंत्र की कुछ सीमाएं और परिमाप होता है और उनके लिए साधक को पूर्ण सावधानी रखने...

मंत्र-श्लोक-स्त्रोतं

चमत्कारी है राम रक्षा स्त्रोत -मुर्दे में भी जान डाल देता है

राम रक्षा स्त्रोत  (Ram Raksha Strot Mp3 Downlaod in Hindi) को ग्यारह बार एक बार में पढ़ लिया जाए तो पूरे दिन तक इसका प्रभाव रहता है। अगर आप रोज ४५ दिन तक राम...

मंत्र-श्लोक-स्त्रोतं

श्रीमद उच्छिष्ठमहागणपती का कवच

ओम श्रीमदउच्छिष्ठ महागणाधिपतये नमो नम।। ओम हस्तिपिशाचीलिखे स्वाहा । ओम हृीं गं हस्तिपिशाची लिखे स्वाहा अथ श्रीमद उच्छिष्ठ गणपती कवचम् । देव उवाच ।। देवदेव...

मंत्र-श्लोक-स्त्रोतं

हनुमानजी के चमत्कारिक और सर्व कष्टनिवारक सिद्ध मंत्र

श्री हनुमान मूल मंत्र: ॐ ह्रां ह्रीं ह्रं ह्रैं ह्रौं ह्रः॥ द्वादशाक्षर हनुमान मंत्र: हं हनुमते रुद्रात्मकाय हुं फट्। फल: से इस मंत्र के बारे शास्त्रो में...

मंत्र-श्लोक-स्त्रोतं

सिद्ध कुंजिका स्तोत्र

शिव उवाचः- शृणु देवि प्रवक्ष्यामि कुंजिकास्तोत्रमुत्तमम् । येन मन्त्रप्रभावेण चण्डीजापः भवेत् ॥1॥ न कवचं नार्गलास्तोत्रं कीलकं न रहस्यकम् । न सूक्तं नापि...

सर्वाधिक पढ़ी जाने वाली पोस्ट

Like & Support us on Facebook