घर में क्लेश ना होने के लिए मंत्र | Grah Kalesh Nivaran Mantra दत्तात्रेय भगवान का चित्र स्थापित करे । चित्र के समुख एक पानीवाला नारियल मिट्टी के घड़े के ऊपर रखकर चारों तरफ पत्ते लगाकर कलश स्थापित करें और चार मुख वाला दीपक उसके सामने प्रज्ज्वलित...

Read More
देशभक्ति

रानी पद्मावती : प्राणों की आहुति देकर अपने और देश के मान सम्मान की रक्षा करने वाली वीरांगना

Rani Padmavati History in Hindi | हमारे देश में जिन वीर बालाओ ने अपने प्राणों की आहुति देकर अपने मान सम्मान की रक्षा की उनमे वीरांगना रानी पद्मिनी (Rani...

भक्ति

श्री कृष्ण और राधा रानी के प्रेम का प्राकट्य और जीवन की कथामृत सार

श्री राधा और कृष्ण जी के बारे में ऐसा कौन होगा जिसने कभी सुना नही होगा। सभी जानते है की राधा और कृष्ण एक दूसरे से प्रेम करते थे। और इतना प्रेम करते थे की कृष्ण...

भक्ति

श्री कृष्णा द्वारा वर्णित ध्यान विधि और भक्ति योग की महिमा

  श्रीमद भागवत – एकादश स्कन्ध – चौदहवाँ अध्याय उद्धव जी ने पुछा – श्रीकृष्ण ! ब्रम्हवादी परमात्मा आत्मकल्याण के लिए अनेको साधन बतलाते हे...

मंत्र-श्लोक-स्त्रोतं

माँ ब्रह्मचारिणी के मंत्र, भजन, कवच और ध्यान मंत्र

माँ ब्रह्मचारिणी भजन Mp3 जय माँ ब्रह्मचारिणी, ब्रह्मा को दिया ग्यान। नवरात्रे के दुसरे दिन सारे करते ध्यान॥ शिव को पाने के लिए किया है तप भारी। ॐ नमो शिवाय जाप...

भक्ति

परमात्मा के अनेक नाम और उनमे छुपा उनका चरित्र रहस्य

परमात्मा के विविध नाम (Name of Hindu God & Goddess) किसी का भी संबोधन हम उसके नाम से करते हैं | नाम हमारे गुणों के सूचक हैं नियमानुसार रखे जाए अतः नाम गुण...

भक्ति

तो ये है शिव के अद्भुत रूप का छुपा गूढ़ रहस्य, जानकर हक्के बक्के रह जायेंगे

कौन हैं शिव :  (who is lord shiva) शिव संस्कृत भाषा का शब्द है, जिसका अर्थ है, कल्याणकारी या शुभकारी। यजुर्वेद में शिव को शांतिदाता बताया गया है।...

भक्ति

क्या जीवन सार “जाही विधी राखे राम ताही विधी रहिये” मे ही है ?

  यह ब्रह्माण्ड बहुत विशाल है, इसके हर तत्त्व को, इसकी हर रचना को ना तो जाना जा सकता है और ना ही समझा जा सकता है, हमारी पृथ्वी का एक ही सूर्य लाखों डिग्री...

भक्ति

जानिए नित्य वंदना मे संध्या पूजन क्यों अत्यंत आवश्यक है

  नित्य वंदना (Sandhya Pujan) के आवश्यक अंगो में संध्या प्रमुख अंग है। कुछ विद्वानों का मत है कि पंचमहाभौतिक शरीर का शुद्धिकरण मात्र ही संध्या है, लेकिन...

मंत्र-श्लोक-स्त्रोतं

शिव मंत्र पुष्पांजली तथा सम्पूर्ण पूजन विधि और मंत्र श्लोक

शिव मंत्र | Lord Shiva Mantra कर्पूर गौरमं कारुणावतारं, संसार सारम भुजगेंद्र हारम | सदा वसंतां हृदयारविंदे, भवम भवानी साहितम् नमामि || मंगलम भगवान शंभू , मंगलम...

नयी पोस्ट आपके लिए