Category - भक्ति

भक्ति

परमात्मा के अनेक नाम और उनमे छुपा उनका चरित्र रहस्य

परमात्मा के विविध नाम (Name of Hindu God & Goddess) किसी का भी संबोधन हम उसके नाम से करते हैं | नाम हमारे गुणों के सूचक हैं नियमानुसार रखे जाए अतः नाम गुण, कर्म और स्वभाव अनुसार रखे जाते हैं |......

भक्ति

तो ये है शिव के अद्भुत रूप का छुपा गूढ़ रहस्य, जानकर हक्के बक्के रह जायेंगे

कौन हैं शिव :  (who is lord shiva) शिव संस्कृत भाषा का शब्द है, जिसका अर्थ है, कल्याणकारी या शुभकारी। यजुर्वेद में शिव को शांतिदाता बताया गया है। ‘शि’ का अर्थ है, पापों का नाश करने......

भक्ति

क्या जीवन सार “जाही विधी राखे राम ताही विधी रहिये” मे ही है ?

  यह ब्रह्माण्ड बहुत विशाल है, इसके हर तत्त्व को, इसकी हर रचना को ना तो जाना जा सकता है और ना ही समझा जा सकता है, हमारी पृथ्वी का एक ही सूर्य लाखों डिग्री ताप के साथ इस पृथ्वी......

भक्ति

जानिए नित्य वंदना मे संध्या पूजन क्यों अत्यंत आवश्यक है

  नित्य वंदना (Sandhya Pujan) के आवश्यक अंगो में संध्या प्रमुख अंग है। कुछ विद्वानों का मत है कि पंचमहाभौतिक शरीर का शुद्धिकरण मात्र ही संध्या है, लेकिन संध्या का उदेश्य यही नही है......

भक्ति

जानिए गूढ़ ज्ञान की माला में 108 मनके ही क्यो होते है ?

भारतीय अंक शास्त्र के अनुसार एक से नौ तक कें अंक नौ ग्रहो के प्रतीक हैं। 1 अंक उस ईश्वर का जो दिखाई तो त्रिदेवों के रूप में देता है। लेकिन वास्तव में वह है एक ही, उसका शून्य(0)......

भक्ति

जानिए क्यों और कैसे भगवान शिव हर मनोकामना पूरी करते है सावन के महीने मे

  Sawan Somvar vrat katha in hindi : हमारे हिंदू धर्म में सावन का महीना काफी पवित्र माना जाता है। इसे धर्म-कर्म का माह भी कहा जाता है। सावन महीने का धार्मिक महत्व काफी ज्यादा है। इस दौरान व्रत......

भक्ति

जानिए शिवपुराण के अनुसार धन लाभ यश प्राप्ति के उपाय

इस सृष्टि का निर्माण भगवान शिव की इच्छा मात्र से ही हुआ है। अत: इनकी भक्ति करने वाले व्यक्ति को संसार की सभी वस्तुएं प्राप्त हो सकती हैं। शिवजी अपने भक्तों की समस्त......

भक्ति

जानिए क्यों नहीं करते है शुभ कार्य देवशयनी एकादशी के बाद

  देवशयनी एकादशी आषाढ़ मास के शुक्ल पक्ष की एकादशी को कहा जाता है। इसे ‘पद्मनाभा‘ तथा ‘हरिशयनी’ एकादशी भी कहा जाता है। पुराणों में ऐसा उल्लेख मिलता है कि इस दिन से......

भक्ति

इस तरह शिवजी करेंगे आपकी गृहस्थी को शुभ और लाभ से भरपूर

श्रीपुराणपुरुषोत्तमाय नम :, श्री गणेशाय नम: भवाब्धिमग्नं दिनं मां समुन्भ्दर भवार्णवात | कर्मग्राहगृहीतांग दासोऽहं तव् शंकर || श्री शिवपुराण – माहात्म्य रूद्रसंहिता......

भक्ति

महा लक्ष्मी को प्रसन्न करने की अचूक विधि और मंत्र

Lakshmi pujan hindi : धन, संपत्ति अर्थात पैसा वर्तमान में मनुष्य की सबसे बड़ी जरुरत है। पैसे से ही मनुष्य के जीवन की तमाम भौतिक जरुरतें पूरी होती हैं। धन, संपत्ती, समृद्धि का एक नाम......

error: Content is protected !!