राजस्थानी भजन

गोवर्धन धारियों

krishana-bhajan

श्री गोवर्धन धारियों गिर न पड़े

गिर न पड़े गोवेर्धन धारियों कृष्ण हमारो प्यारो

ग्वाल बाल सब लेवो री लकोटिया

तनक तनक भैया देवो नी सहरो |

गिरना …………………

तू क्यों सोच करे मेरी मैया ,

मन में धीरज धारो

एक इन्दर की कहा चलत हे ,

कोटि –कोटि कर पच पच हारियो |

गिरना …………….

बड़ी बड़ी बृंद पड़ी गिरवर पर ,

कीच भयो नहीं कादो

इन्द्र देवता हार चाल्यो है

जीत चाल्यो लालो गोकुल वालो |

गिरना …………..

चन्द्र सखी ब्रिज बाल कृष्ण छवि ,

हरी चरणों से प्यारो

अपनी राधाजी री नैनों रो तारो |

गिरना पड़े …………………

Search Kare

सर्वाधिक पढ़ी जाने वाली पोस्ट

bhaktisanskar-english

Subscribe Our Youtube Channel