ओशो भजन

इक ओशो क्या आए

इक ओशो आए (Ek Osha kya aaya Bhajan in hindi Mp3)

इक ओशो क्या आए, खुद चांद उतर आया।

धरती से मिलने को, आकाश उतर आया।।

बह की बह की सीहवा, मह कीमह की सी फिजां।

पतझड़ को रिझाने को, रितु राज उतर आया।।

सूरज छुप गया कहीं, तारे शरमाने लगे।

कुचवाड़ा अवध हुआ, इक राम उतर आया।।

अन हद की वंशी बजी, हर राधा उमड़ पड़ी।

इक महारास लेकर, घन श्याम उतर आया।।

जीने की क्या चिंता, मरने से कैसा डर;

सद्गुरु बन कर लेने, भगवान उतर आया।


About the author

Pandit Niteen Mutha

नमस्कार मित्रो, भक्तिसंस्कार के जरिये मै आप सभी के साथ हमारे हिन्दू धर्म, ज्योतिष, आध्यात्म और उससे जुड़े कुछ रोचक और अनुकरणीय तथ्यों को आप से साझा करना चाहूंगा जो आज के परिवेश मे नितांत आवश्यक है, एक युवा होने के नाते देश की संस्कृति रूपी धरोहर को इस साइट के माध्यम से सजोए रखने और प्रचारित करने का प्रयास मात्र है भक्तिसंस्कार.कॉम

क्या आपको हमारी पोस्ट पसंद आयी ?