ओशो भजन

दिल जिस से ज़िन्दा है

दिल जिस से ज़िन्दा है (Dil Jis se Jinda hai Bhajan in hindi Mp3)

  दिल जिस से ज़िन्दा है, वो तमन्ना तुम्हीं तो हो,

आबाद रूह जिससे, वो अरमां तुम्हीं तो हो।

 दौलत की है तलाश जिन्हें, उनको हो नसीब,

मेरी हर खुशी है जिससे, वो दुनिया तुम्हीं तो हो।

 रोजा़, नमाज़, हज का, हमें कुछ नहीं पता,

मेरा सर झुके जहां, वो काबा तुम्हीं तो हो।

 कुछ कहते पास हैं, कुछ कहते दूर हैं,

मुझे जिसकी है तलाश, वो खुदा तुम्हीं तो हो।

सूरज कहूं या चांद कहूं, आसमां कहूं,

जिस पर मुझे है नाज़, वो जलवा तुम्हीं तो हो।

 मेरे पीर-वो-मुर्शिद, ओशो मेरे ओशो,

करूं जां निसार जिस पै, वो मौला तुम्हीं तो हो।

 

About the author

Pandit Niteen Mutha

नमस्कार मित्रो, भक्तिसंस्कार के जरिये मै आप सभी के साथ हमारे हिन्दू धर्म, ज्योतिष, आध्यात्म और उससे जुड़े कुछ रोचक और अनुकरणीय तथ्यों को आप से साझा करना चाहूंगा जो आज के परिवेश मे नितांत आवश्यक है, एक युवा होने के नाते देश की संस्कृति रूपी धरोहर को इस साइट के माध्यम से सजोए रखने और प्रचारित करने का प्रयास मात्र है भक्तिसंस्कार.कॉम

क्या आपको हमारी पोस्ट पसंद आयी ?