रत्न और राशि

भाग्य चमकाने हेतु ज्योतिष और वास्तु के सरल और अचूक उपाय

मनोकामना पूर्ण करने हेतु अचूक उपाय : 

  • घर के प्रत्येक द्वार पर प्रत्येक त्यौहार एवं मांगलिक कार्य के अवसर पर रंगोली अवश्य बनाए इससे भाग्योन्नति होती है।
  • घर का कोई सदस्य यदि इंटरव्यू के लिए जा रहा है तो उसे दही चीनी खिलाये। जब वह घर के मुख्य द्वार पर हो तो उस पर साबुत मूंग के दाने फेंकें। जब वह सदस्य चला जाये तो दानों व झाड़ू से इकट्ठे करके बाहर फेंक दें। इंटरव्यू सफल होगा।
  • यदि प्रतिदिन ॐ गं गणपतये नमः मन्त्र का अधिकाधिक संख्या में जाप किया जाए तो घर में सुख-समृद्धि बढ़ेगी।
  • जब भी गेहूं पिसवाएं तो सिर्फ शनिवार को ही पिसवाएं तथा गेहूं में एक मुट्ठी साबुत काले चने जरूर मिलाएं।
  • यदि धीरे-धीरे आर्थिक स्थिति कमजोर हो रही हो तो २१ शुक्रवार तक नौ वर्ष से काम आयु की पांच कन्याओं को खीर मिश्री का प्रसाद बांटे। अपने घर में दीपक रुई की बाती से जलता है, यदि उस दीये में बाती की जगह मौली रखी जाय तो माँ लक्ष्मी सर्वाधिक प्रसन्न हो जाएंगी।
  • हर शुक्रवार को श्री सूक्त का पाठ नियमित रूप से श्रद्धापूर्वक करें।

  • यदि आर्थिक समस्या से छुकारा चाहते हैं तो लगाकर पांच गुरुवार सुहागिन स्त्री को सुहाग सामग्री दान करें।
  • घर में प्रतिदिन पोंछा लगाते समय पानी में नमक मिलकर ही पोंछा लगाएं इससे घर आँगन में शांति का मार्ग प्रशस्त होता है।
  • प्रत्येक पूर्णिमा तिथि पर प्रातः दस बजे करीब पीपल के पेड़ पर माँ लक्ष्मी का आगमन होता है। यदि आर्थिक समस्या से ग्रसित व्यक्ति ऐसे समय पीपल के साथ माँ लक्ष्मी की उपासना करे तो आर्थिक समस्या दूर होगी।
  • घर में धन रखने के स्थान पर लाल रेशमी कपडे में ग्यारह छुआरे रखें इससे धन लाभ होता है।
  • घर में पूजा के स्थान पर स्फटिक श्रीयंत्र पर यदि कंगते के बीज की माला अर्पित की जाय तो स्फटिक श्रीयंत्र शीघ्र ही चैतन्य हो जाता है एवं माँ लक्ष्मी की कृपा होती है।
  • दीपावली की रात महानिशा कहलाती है। यदि इस दिन धन प्रदायककी भी प्रयोग किया जाए तो वह पूर्ण सफल होता है।
  • असली स्फटिक की माला से “ॐ ऐं श्रीं क्लीं महालक्ष्मी नमः” इस मन्त्र का ग्यारह माला का जप करें। इसी तरह से चालीस दिन तक यह मन्त्र जप करें। चालीसवें दिन वह माला स्वयं धारण करें। इस प्रयोग से माँ लक्ष्मी की कृपा आप पर बानी रहेगी।
  • श्री महालक्ष्मी का ध्यान करके मस्तक पर यदि शुद्ध केसर का तिलक लगाया जाए तो शीघ्र ही धन लाभ की सुचना मिलेगी।
  • यदि की व्यक्ति नौकरी प्राप्त करना चाहता है लेकिन लाख प्रयत्न करने के बावजूद भी यदि नौकरी नहीं मिल रही है तो यहाँ एक अचूक टोटका दिया जा रहा है, जिसे श्रद्धापूर्वक किया जाये तो शीघ्र भाग्यकारी सिद्ध होगा –

बाज के सिर के कुछ पंख लेकर पूर्णिमा को , आधी रात के समय किसी नदी के तट पर पहुंचे तथा सभी पंख दायें हाथ में लेकर नदी के जल में सात बार डुबकी लगाएं। प्रत्येक बार डुबकी लगाने के पश्चात नदी के जल में ही खड़े होकर 1008 बार इस मन्त्र का जाप करें।

ॐ नमः कमाक्ष्यैः। नमः सर्व मंगलायैः। नमः शिवाय। ॐ क्रां क्री क्रौं श्रीं लीं फट स्वाहा।

यह क्रिया पूरी हो जाने के बाद घर आकर पंखों को स्वर्ण की तावीज में भरकर बंद कर दें। तावीज में लाल रेशमी डोरी पिरोकर अपनी दायी भुजा में बाँध लें। तावीज धारण करने के बाद किसी शुभ मुहूर्त में माँ भगवती देवी का नाम लेकर नौकरी के प्रयास में घर से बाहर निकालें। शीघ्र ही मनचाही नौकरी मिल जायेगी।

  • प्रातः काल स्थान के पश्चात पीपल के वृक्ष में जल चढ़कर यदि सच्चे मन से सफलता की प्रार्थना की जाए तो शीघ्र ही हर मनोकामना पूरी होगी।
  • नवरात्रों में प्रतिदिन यदि एक बार देवी सूक्त का पाठ किया जाए तो आपकी सभी मनोकामनाएं पूर्ण हो जाएँगी।
  • हर मंगलवार गणेश जी को बेसन के पांच लड्डू का भग लगाएं। एक लड्डू तो भगवान क चढ़ा दें बाकी चार  सदस्यों को प्रसाद के रूप में बाँट दें।  दूसरे दिन वह एक लड्डू घर के मुखिया को खिला दें।  इससे शीघ्र ही आपकी मनोकामना पूर्ण होती नजर आएगी।
  • शुद्ध तांबे के लोटे में शुद्ध जल लेकर प्रतिदिन यदि तुलसी का पौधा सींचा जाए व ॐ सूर्याय नमः का सात बार मन्त्र जप करते हुए सूर्य का जल का अर्ध्य दिया जाए तो मन की सभी इच्छाएं शीघ्र ही पूरी होंगी।
  • महीने में एक बार किसी मंदिर में सहृदय श्रमदान करें तो पंद्रह दिनों के अंदर ही सभी मनोकामना पूर्ण हो जाएंगी।
  • प्रातः काल बिल्वपत्र पर यदि सफ़ेद चन्दन की बिंदी लगाकर अपनी मन्काना बलते हुए उसे पारद शिवलिंग पर चढ़ा दें। इससे आपकी मनोकामना पूरी ह जाएगी।
  • बरगद के पत्ते पर अपनी मनोकामना लिकते हुए, यदि उसे बहते हुए जल में छोड़ दिया जाये टी मनोकामना पूरी होती है।
  • नवरात्रि के प्रथम दिन एक चमकीला लाल वस्त्र लाकर उसे माँ दुर्गा के सामने रख दें। नवरात्रि पूर्ण वाले दिन उसे तेह करके किसी सुरक्षित स्थान पर रखे दें।  आपकी इच्छाएं ही पूरी होंगी।
  • प्रातः काल पांच लाल रंग के पहल यदि हनुमान जी को अर्पित किये जाएँ तो हनुमान जी आपकी हर मनोकामना पूर्ण करेंगे।
  • यदि प्रतिदिन मंदिर में मीठी वस्तु का भोग लगाया जाए तो शीघ्र ही मनोकामना फलदायी होगी।
  • एक नया सूती लाल वस्त्र लेकर उसमे जटायुक्त नारियल बंधे एवं उससे अपनी मनोकामना कहते हुए बहते जल में प्रवाहित कर दें।
  • किसी शुभ दिन प्रातः काल स्नानादि करके गौरीशंकर रुद्राक्ष को शिवजी के मंदिर में चढ़ा आएं। साड़ी मनोकामना शीघ्र ही पूरी होगी।
  • यदि कोई जातक नीलम या कटैला शुक्लपक्ष के शनिवार अथवा शनि पुष्य योग में मध्यमा अंगुली में धारण करें तो शीघ्र ही उसकी सभी मनोकामनाएं पूरी होती दिखाई देगी।
  • यदि व्यक्ति सदैव सदाचरण के मार्ग का अनुसरण करे तो स्वयं ईश्वर इसकी मनकामना पूर्ति करने की अभिलाषा रखते हैं।
  • यदि शुक्लपक्ष के शनिवार को एक बांसुरी में चीनी भरकर किसी एकांत स्थान में दबा दी जाए तो जातक की आजीविका मनोकामना भी शीघ्र ही पूरी हो जायेगी।
  • प्रत्येक बुधवार हरे रंग के वस्त्र धारण करने चाहिए। इससे मनोवांछित फल की प्राप्ति होती है।

क्या आपको हमारी पोस्ट पसंद आयी ?

1 Comment

error: Content is protected !!