हेल्थ

पीठ दर्द में आयुर्वेदिक उपचार

back-pain

back-painहमारे शरीर के विभिन्न भागों में अनेक प्रकार की diseases होती रहती हैं. जिसके परिणाम स्वरूप कई बार शरीर में दर्द भी हो जाता हैं. शरीर के किसी भी भाग में दर्द होने पर हमारे शरीर में बेचैनी हो जाती हैं. शरीर के किसी भी भाग में दर्द होने पर हम अक्सर दर्द से राहत पाने के लिए pain killer tablets का सेवन करते हैं. जिनका सेवन करने से  कभी – कभी हमारे शरीर पर इन दवाइयों का अतिरिक्त प्रभाव भी पड़ जाता हैं. अधिक pain killer का सेवन करने से हमारे शरीर के महत्वपूर्ण अंगों जैसे heart, liver kidney में रोग उत्पन्न होने की आशंका रहती हैं. आधुनिक चिकित्सा की दवाइयों को खाने से दर्द तो आराम हो जाता हैं. लेकिन एक दर्द को ठीक करने के चक्कर में शरीर में अनेक रोग उपज जाते हैं. जिससे नुकसान हमारे शरीर का ही होता हैं. इसलिए जरूरत से ज्यादा medicines का सेवन नहीं करना चाहिए . अगर आपके शरीर में किसी भी प्रकार का दर्द हो तो आप उसे ठीक करने के लिए home medical remedies को अपना सकते हैं. घरेलू उपायों को अपनाने से किसी भी प्रकार के अतिरिक्त प्रभाव के शरीर पर पड़ने का भी भय नहीं रहता. कमर, पसली व back pain problem को ठीक करने के लिए भी आप कुछ आसान घरेलू उपायों का प्रयोग करके दर्द से राहत पा सकते हैं.

आज की भाग दौड़ की जिंदगी में पीठ दर्द होना एक आम समस्या है। पीठ दर्द के कई कारण होते हैं। surgical delivery ,गलत तरीक से सोने या उठने-बैठने के कारण। महिलाओं में आमतौर पर high heel sandal पहनने से कमर दर्द के होने की संभावना रहती हैं। पीठ दर्द के लिए भी इलाज उपलब्ध है,

फिर वह चाहे एलोपैथी में हो या आयुर्वेद में। herbal remedy में पीठ दर्द का स्थायी इलाज भी मौजूद है। आयुर्वेद के हिसाब से कमर दर्द का मुख्य कारण कब्ज है, जिसे आयुर्वेदिक इलाज से आसानी से ठीक किया जा सकता है। आइए जानें पीठ दर्द के आयुर्वेदिक इलाज के बारे में।

कमर दर्द को ठीक कैसे करें:

अधिकतर कमर दर्द की समस्या दिन भर काम करने वाली house wife को होती हैं. लेकिन हम यह बिल्कुल निश्चित होकर नहीं कह सकते. कमर के दर्द की समस्या से आजकल हर age group का व्यक्ति परेशान रहता हैं. आजकल बच्चों से लेकर बड़े – बूढों को भी कमर दर्द की शिकायत होती हैं.

कमर में दर्द होने का कारण अधिक देर तक एक ही अवस्था में बैठकर काम करना भी हो सकता हैं. भारी वजन उठाने के कारण मांसपेशियों में अधिक खिचावं आ जाता हैं. जिससे कमर में दर्द हो जाता हैं. हमेशा high heel sandal or shoe को पहनने के कारण भी कमर में दर्द हो जाता हैं. कभी - कभी अधिक नर्म गद्दों पर सोने से भी कमर में दर्द की समस्या उत्पन्न हो जाती हैं. अधिक देर तक ड्राइव करने के कारण भी लोगों को कमर में दर्द की शिकायत हो जाती हैं. बुजुर्गों के कमर में दर्द बढ़ती उम्र के कारण हो जाता हैं. जैसे – जैसे वृद्ध लोगों की उम्र बढती जाती हैं. वैसे ही उनके जोड़ों में दर्द, कमर में दर्द तथा पीठ के दर्द की समस्या उत्पन्न हो जाती हैं. कमर में दर्द होने के कारण

कमर के दर्द के लक्षण:

ज्यादातर लोगों की कमर के निचले तथा मध्य हिस्से में ज्यादा दर्द होता हैं. कमर का दर्द कई लोगों के कमर के दोनों ओर तथा कूल्हों में भी होता हैं. जिससे किसी भी काम को करने में बहुत ही परेशानी होती हैं.

कमर में दर्द होने पर आप कुछ घरेलू उपायों का उपयोग करके इस दर्द से राहत पा सकते हैं. जो की निम्नलिखित हैं-

1. कमर के दर्द को दूर करने के लिए 500 ग्राम धतूरे के पत्तों का रस लें. 15 ग्राम अफीम लें. 5 ग्राम सेंधा नमक लें. अब इन तीनों को मिलाकर एक गाढ़ा मिश्रण तैयार कर लें. कमर के दर्द को दूर करने के लिए इस मिश्रण से दिन में 4 या 5 बार मालिश करें. आपको कमर के दर्द से आराम मिलेगा.

2. कमर के दर्द से राहत पाने के लिए आप कमल ककड़ी के चुर्ण का भी प्रयोग कर सकते हैं. इसके लिए 100 ग्राम कमल ककड़ी का चुर्ण लें. अब एक बर्तन में दूध डाले और उसे उबालने के लिए रख दे. अब कमल ककड़ी के चुर्ण को दूध में डालकर थोड़ी देर पका लें. अब दूध का सेवन करें. इस दूध का सेवन करने से कमर के दर्द में काफी राहत मिलेगी.

3. सोंठ और गोखरू का प्रयोग करने से भी कमर का दर्द ठीक हो जाता हैं. कमर के दर्द को ठीक करने के लिए गोखरू और सोंठ की बराबर – बराबर मात्रा लें और इनका क्वाथ बना लें. अब इस क्वाथ का सेवन करें. सोंठ और गोखरू से बने क्वाथ को दिन में दो बार पीने से कमर का दर्द ठीक हो जायेगा.

4. सोंठ और अरंड मूल का क्वाथ बनाकर पीने से भी कमर का दर्द ठीक हो जाता हैं. कमर के दर्द को ठीक करने के लिए सोंठ और अरंड मूल का क्वाथ बना लें. फिर इसमें पीसी हुई हिंग और काला नमक डालें और इन्हें अच्छी तरह मिला लें. अब इसका सेवन करें. सोंठ और अरंड मूल के क्वाथ का सेवन करने से आपको कमर के दर्द से छुटकारा मिलेगा.

5. अजवायन और गुड़ का उपयोग करके भी कमर के दर्द से राहत पाई जा सकती हैं. इसके लिए 200

ग्राम अजवायन लें और उसे पीस लें. अब 200 ग्राम गुड़ लें और उसे भी पीस लें. अब एक डिब्बा ले और उसमें इन दोनों के चुर्ण को डालकर रख दें. रोजाना एक चम्मच चुर्ण का सेवन करें. कमर के दर्द को जल्दी दूर करने के लिए इस चुर्ण का दिन में दो बार सेवन करें.

6. कमर के दर्द से छुटकारा पाने के लिए आप खजूर और मेथी के दानों का प्रयोग कर सकते हैं. कमर के दर्द को दूर करने के लिए 10 ग्राम खजूर को पानी में डालकर उबाल लें. अब 4 ग्राम मेथी लें और उसे पीस लें. उबले हुए खजूर के पानी में मेथी के चुर्ण को मिलाकर इसका सेवन करें. खजूर और मेथी के मिश्रण को पीने से कमर दर्द ठीक हो जायेगा|

7. फली का सेवन करना कमर दर्द में उपयोगी माना गया है, कुछ दिनों तक नियमित रूप से फली का सेवन करने से कमर दर्द की पीड़ा में राहत मिलती है।

8. सुबह शाम दिन में दो बार दो-दो छुहारे खाते रहें एैसा नियमित कुछ दिनों तक करने से कमर दर्द में राहत मिलती है।

9. देशी घी में अदरक का रस मिलाकर पीते रहें, कुछ दिनों तक सेवन करने से कमर दर्द की शिकायत दूर हो जाती है।

10. मेथी का प्रयोग खाने में करते रहने से भी कमर दर्द में राहत मिलती है। मेथी के लडुओं को सेवन नियमित करते रहने से कमर दर्द नहीं होता।

11. यदि कमर में दर्द अधिक है तो आप मेथी के तेल की मालिश कमर पर जरूर करें लाभ मिलेगा।

12. 200 ग्राम दूध में 5 ग्राम एरंड की गिरी को पकाकर, दिन में दो बार सेवन करने से कमर दर्द की पीड़ा जल्दी ठीक हो जाती है।

13. कमर दर्द में कच्चे आलू की पुल्टिस बांधने से कमर से संबंधित दर्द समाप्त हो जाता है। लेकिन नियमित इस का प्रयोग करेगें तभी।

14. तिल के तेल की कमर पर मालिश करने से कमर दर्द ठीक हो जाता है। तिल के तेल को हल्की आंच में गरम करें और फिर इस तेल को कमर दर्द वाली जगह पर हल्के हाथों से मालिश करें। कमर दर्द में जल्द ही राहत मिलेगी।

15. गेहूं की बनी रोटी जो एक ओर से नहीं सिकी हो उस पर तिल के तेल को चुपड़कर कमर दर्द वाली जगह पर रखने से कमर दर्द जल्दी ठीक होता है।

16. गरम पट्टी को कमर पर बांधने से कमर दर्द मे राहत मिलती है, आप गरम पानी में थोड़ा सेंधा नमक डालकर नहाने से भी कमर और पीठ दर्द में राहत मिलती है ।

17. कमर दर्द से परेशान होने की जरूरत नहीं है। आप इन कारगर घरेलू उपायों के जरिए कमर दर्द से छुटकारा पा सकते हैं। लेकिन इसके साथ ही आपको व्यायाम की जरूरत भी है। साथ ही सीधे खड़े होने और सीधे बैठने की आदत को डालें।

कमर दर्द को ठीक करने के अन्य उपाय:

1. रोज पैदल चलने की कोशिश करें । यह कमर दर्द से राहत पाने का व्यायाम है।

2. ज्यादा समय तक किसी कुर्सी या स्टूल पर झुककर न बैंठे। क्योंकि यह कमर दर्द की वजह बनता है।

3. जब भी आप सीढि़यां चढ़ें या उतरें ऐसे में सावधानी का ध्यान रखें।

4. ज्यादा नर्म गद्दों पर न सोएं।

5. अधिक उंचे जूते या हील पहनने से बचें।

6. किसी भी सामान को अकेले न उठाएं।

7. आप शरीर को व्यस्त रखें।

8. अपने बैठने का पोश्चर सही रखें। और जब भी कार चलाएं तब सीट बेल्ट को टाइट करके रखें।

9. calcium से बनी चीजों का सेवन अधिक करें। क्योंकि कमर दर्द की मुख्य वजह कैल्शियम की कमी होती है।

10. आप हलासन, भुन्जगासन और शलभासन करें।

11. कमर दर्द से राहत पाने के लिए साइकिल जरूर चलाएं।

12. कुर्सी पर सीधा बैठें। अधिक देर तक एक ही जगह पर न बैठें।

Tags

About the author

Niteen Mutha

नमस्कार मित्रो, भक्तिसंस्कार के जरिये मै आप सभी के साथ हमारे हिन्दू धर्म, ज्योतिष, आध्यात्म और उससे जुड़े कुछ रोचक और अनुकरणीय तथ्यों को आप से साझा करना चाहूंगा जो आज के परिवेश मे नितांत आवश्यक है, एक युवा होने के नाते देश की संस्कृति रूपी धरोहर को इस साइट के माध्यम से सजोए रखने और प्रचारित करने का प्रयास मात्र है भक्तिसंस्कार.कॉम

Add Comment

Click here to post a comment

नयी पोस्ट आपके लिए